सोशल मीडिया तमाशा – हिंदी कविता

सुनो सुनो ओ दुनियाँ वालों यह सोशल मीडिया नया तमाशा है गली नुक्कड़ की नौटंकियाँ बंद हुई तो क्या, इससे हमें बड़ी आशा है सुनो सुनो यहाँ हर रोज़ एक नया तमाशा है