blogging

Missing pieces

one day one moment any second of your life could be that moment in which either you take pride or you are taken for a ride punched, crushed soul brutually criticised gathering courage to gather all the peices of rampage torn apart still holding on shutting down lying in the sea of pain revering each …

Missing pieces Read More »

क्या है मिथ्या

जीने का अरमान या मौत सा सुकूं उजाले की किरण या अँधेरे की चुभन है सब माटी का माटी में ही मिल जाना है किसका भय है क्यों न तू निर्भय है जीवन पथ पर कांटे हज़ार है पर तू चल निस्चल अपनों से लड़ या अपने लिए लड़ पर तू कर हासिल जीत हर …

क्या है मिथ्या Read More »